जिलों के भीतर तबादलों पर कोरोना का साया, कई माह से इंतजार कर रहे थे बेसिक शिक्षक, अब अगले माह उम्मीद

29

उत्तर प्रदेश में लंबे समय से जिलों के भीतर तबादले का इंतजार कर रहे बेसिक शिक्षकों को योगी सरकार बड़ी राहत देने वाली थी. विगत माह बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (Basic Education State Minister) (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) के बाद बेसिक शिक्षकों के स्थानांतरण व समायोजन के निर्देश दे दिए थे। जो अब कोरोना संक्रमण के कारण टलते हुआ नजर आ रहे हैं |

मंत्री जी ने विगत माह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की थी। उन्होंने अफसरों को भी निर्देश जारी किये थे कि जिलों के अंदर शिक्षकों के समायोजन/स्थानांतरण की कार्यवाही की तैयारी करें। पंचायत चुनाव की आचार संहिता के तुरंत बाद इसे पूरा करने का भी विचार था, लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रकिया पर लगता है ब्रेक सा लग गया है. अब बेसिक शिक्षक अगले माह की उम्मीद लगाये बैठे हैं |

शिक्षक भी कोरोना के कारण खासे परेशान है.इसलिए शासन के अगले निर्देश का इंतजार कर रहे हैं. हो सकता है कोरोना का संक्रमण कम होने पर प्रकिया पुन: शुरू हो ऐसा कयास लगा रहे हैं. दरअसल, अंतर्जनपदीय तबादले के बाद कई जिलों के तमाम स्कूलों में शिक्षकों की कमी हो गई है। दूसरी ओर 69,000 शिक्षकों के विद्यालय आवंटन की कार्यवाही के दौरान विद्यालय प्राथमिकता निर्धारण में विसंगति से तमाम शिक्षकों को दूरदराज के क्षेत्रों में तैनाती मिल गई। इससे तमाम स्थानीय शिक्षकों को 50-60 किलोमीटर दूर तैनाती मिली है जिससे उन्हें प्रतिदिन समय से विद्यालय पहुंचने में मुश्किल आ रही है। कई जनप्रतिनिधि शिक्षकों की न्याय पंचायत या ब्लॉक के भीतर तबादले की वकालत करते रहे हैं। सरकार को अब तबादला नीति तैयार करनी है, और कोरोना कम होने पर तबादला प्रकिया को आगे बढ़ाना है |