पीसीएस के अभ्यर्थियों ने आयु सीमा में मांगी छूट

175

प्रयागराज : कोरोना संक्रमण के मद्देनजर लागू बंदिशों को देखते हुए आइएएस के अभ्यर्थियों को अतिरिक्त अवसर दिया जा रहा है। उसी तर्ज पर पीसीएस के अभ्यर्थी भी आयुसीमा में छूट देने की मांग कर रहे हैं। लेकिन, यहां छूट कोरोना के कारण नहीं, बल्कि पैटर्न में हुए बदलाव को देखते हुए मांगी जा रही है। इसके मद्देनजर प्रतियोगियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों डिप्टी सीएम, मुख्य सचिव व उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग के सचिव को पत्र भेजकर उचित कार्रवाई की मांग की है।

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने वर्ष 2018 में पीसीएस परीक्षा प्रणाली व पाठ्यक्रम में व्यापक परिवर्तन कर दिया था। अचानक हुए बदलाव से प्रतियोगियों को तैयारी करने का उचित मौका नहीं मिला। इससे वे परीक्षा में सफल नहीं हो पाए और आयुसीमा भी खत्म हो गई है। प्रतियोगी सिद्धार्थ मिश्र का कहना है कि पैटर्न बदलने से प्रभावित प्रतियोगियों को वर्ष 2021-2022 की पीसीएस परीक्षा में अतिरिक्त अवसर मिलना चाहिए। कहा कि जब केंद्र सरकार आइएएस के प्रतियोगियों को मानवीय आधार पर एक अतिरिक्त अवसर प्रदान कर सकती है तो प्रदेश सरकार को भी प्रतियोगियों को मौका देना चाहिए। कहा कि यूपीपीएससी हर मामले में संघ लोकसेवा आयोग का अनुसरण करता है। संघ लोकसेवा आयोग ने वर्ष 1979, 1992 व 2015 में परीक्षा पैटर्न में बदलाव के कारण अभ्यíथयों को छूट दी थी। ऐसे में यूपीपीएससी को भी प्रतियोगियों के भविष्य को देखते हुए आयुसीमा में छूट देनी चाहिए।