बेसिक के मास्साब करते मिले चुनाव प्रचार, बीएसए ने किया निलंबित !!

79

पीलीभीत। पंचायत चुनाव में प्रचार करना एक परिषदीय शिक्षक को खासा महंगा साबित हुआ। वीडियो वायरल होने के बाद मामला सही पाए जाने पर खंड शिक्षा अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर बीएसए ने शिक्षक मोहतिसम को निलंबित कर दिया। बीएसए की इस कार्रवाई से चोरी-छिपे गांवों की राजनीति में भूमिका निभा रहे शिक्षकों ने अब अपने कदम पीछे खींच लिए हैं।

जनपद में पिछले माह पारस्परिक स्थानांतरण के तहत विभिन्न जनपदों के 45 शिक्षकों का जनपद में स्थानांतरण किया गया है। हालांकि अभी इन शिक्षकों को स्कूलों का आवंटन नहीं किया गया है। यह शिक्षक रोजाना ही बीएसए कार्यालय पहुंचकर हाजिरी दर्ज करा रहे हैं। जनपद में इन दिनों पंचायत चुनाव का खासा जोर हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के परिषदीय विद्यालयों में तैनात कुछ कुछ गांव की राजनीति में चोरी छिपे खासी भूमिका निभा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला अमरिया ब्लॉक के गांव सिरसी में प्रकाश में आया।

मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वायरल वीडियो में एक परिषदीय शिक्षक चुनाव प्रचार करते देखे गए। मामला संज्ञान में आने पर बीएसए ने मामले की जांच खंड शिक्षा अधिकारी मरौरी शिवेंद्र वर्मा को सौंपी। जांच में मामला सही पाया गया। खंड शिक्षा अधिकारी की रिपोर्ट पर बीएसए चंद्रकेश सिंह ने मंगलवार को प्रथम दृष्टया चुनाव प्रचार करने का दोषी पाते हुए बलिया जिले से स्थानांतरित होकर आए सहायक अध्यापक मोहतिसम को निलंबित कर दिया।

एक शिक्षक के चुनाव प्रचार में लिप्त होने की जानकारी मिली थी। जांच में मामला सही पाया गया। खंड शिक्षा अधिकारी की आख्या रिपोर्ट पर शिक्षक मोहतिसम को दोषी पाते हुए निलंबित किया गया है। – चंद्रकेश सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी